ICC के अगले एक दशक के इस इवेंट्स से क्रिकेट बोर्ड्स होंगे नाखुश !


Mayank Kumar

आज से कुछ साल पहले तक ICC के टूर्नामेंट दो साल में आयोजित किये जाते थे लेकिन अब के इस नए शेड्यूल को देखकर लगता है कि क्रिकेट में टूर्नामेंट की सुनामी आ गई है।

अभी हाल ही में ICC ने साल 2021 से लेकर साल 2031 तक के ICC टूर्नामेंट की लिस्ट जारी कर दी है। 1 जून को ICC की तरफ से नया फ्यूचर टूर प्रोग्राम जारी किया गया है।

ICC के इस लिस्ट की मानें तो साल 2021 से लेकर 2031 के बीच में कुल ICC के 17 टूर्नामेंट खेले जाने हैं।  इसका मतलब साफ़ है कि अब हर साल एक ICC  का टूर्नामेंट खेला जाएगा।

वहीं, साल 2019 के विश्व कप के दौरान मीडिया से बात करते हुए ICC  के एक अधिकारी ने बताया था कि अब ICC अब चैंपियंस ट्रॉफी का आयोजन नहीं करेगी लेकिन ICC की तरफ से जिन इवेंट्स की घोषणा हुई है उसमें दो ICC चैंपियंस ट्रॉफी को शामिल किया गया है। ऐसे में अब पुरुषों की क्रिकेट में ICC के 4 टूर्नामेंट शामिल हो चुके हैं, जिसमें दो वनडे विश्व कप और चैंपियंस ट्रॉफी है जबकि एक-एक टी20 विश्व कप और टेस्ट चैंपियनशिप शामिल है।

ICC के इस नए योजना के अनुसार अब हर दूसरे साल टी20 विश्व कप का आयोजन होगा और हर चौथे साल वनडे विश्व कप का आयोजन किया जाएगा। वहीं, हर दूसरे साल ICC विश्व टेस्ट चैंपियनशिप भी खेला जाएगा जबकि हर चार साल के बाद चैंपियंस ट्रॉफी भी खेला जाएगा और इसका आयोजन साल 2025 और 2029 में होगा।

बात करें, साल 2021 से लेकर 2031 तक की तो इस दौरान 6 T20 विश्व कप, 3 वनडे विश्व कप, 6 वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप और 2 चैंपियंस ट्रॉफी खेली जानी हैं।

ICC इवेंट्स से क्या बढ़ेगी परेशानी ?

अब यहाँ एक बड़ा सवाल ये खड़ा होता है कि क्या पुरुष क्रिकेट टीम के लिए परेशानी बढ़ने वाली है क्योंकि पुरुषों की क्रिकेट में एशिया कप भी शामिल है। इस टूर्नामेंट में भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका और अफगानिस्तान जैसे देश हिस्सा लेते हैं।  इस टूर्नामेंट में  लगभग 20 दिन तो लग ही जाते हैं। ऐसे में इसको लेकर एशियन क्रिकेट काऊंसिल और ICC  के बीच तकरार होना संभव है।

क्रिकेट बोर्ड्स और ICC के बीच हो सकती है गहमा गहमी

अब जब ICC  ने 2031 तक के लिए टूर्नामेंट घोषित कर ही दिया हैं तो अब क्रिकेट बोर्ड्स और ICC  के बीच गहमा गहमी होना तय है क्योंकि इससे द्विपक्षीय क्रिकेट प्रभावित होगी।  ICC  के इस टूर्नामेंट से सिर्फ ICC  को ही फायदा होता है और जो इसकी मेजबानी करता है, उसकी भी चांदी रहती है लेकिन बाकि की टीमों को पैसे के मुकाबले उतना फायदा नहीं होता है।  गौर करने वाली बात ये है कि इसका असर छोटे देश पर बहुत ज्यादा पड़ेगा।

2021 से सेकर 2031 तक के ICC इवेंट्स की पूरी डिटेल

•2021 में वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप और T20 वर्ल्ड कप

2022 में T20 वर्ल्ड कप

2023 में वनडे विश्व कप और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप

2024 में T20 वर्ल्ड कप

2025 में चैंपियंस ट्रॉफी और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप

2026 में T20 वर्ल्ड कप

2027 में वनडे विश्व कप और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप

2028 में T20 वर्ल्ड कप

2029 में चैंपियंस ट्रॉफी और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप

2030 में T20 वर्ल्ड कप

2031 में वनडे विश्व कप और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

अपराध

दुनिया

खेल

मनोरंजन