Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi : जानिए कैसे एक मैच से प्रेरित होकर ऋतुराज ने क्रिकेटर बनने का बनाया मूड


Mayank Kumar

भारत एक ऐसा देश है जहाँ क्रिकेट के प्रसंशक हमें हर कोने में देखने को मिल जाएंगे। क्रिकेट की दीवानगी का अंदाजा तो हम इसी बात से लगा सकते हैं कि जब क्रिकेट शुरू होता है तो सभी लोग अपने जरूरी काम को छोड़कर, इसे देखने में मग्न हो जाते हैं।  आलम तो ऐसा है कि कभी-कभी तो लोग खाना भी अपने बिस्तर पर बैठकर ही खाते हैं और इसका एक ही कारण होता है, खिलाड़ियों द्वारा किया जा रहा अच्छा प्रदर्शन। आज कल क्रिकेट जगत में एक ऐसे खिलाड़ी ने एंट्री ली है जिसने अपने प्रदर्शन से सबको अपना मुरीद बना लिया है और चेन्नई में धूम मचाने वाले इस खिलाड़ी की तारीफ़ खुद महेंद्र सिंह धोनी भी करने में नहीं थक रहे हैं।  उस खिलाड़ी का नाम है ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi)। 

ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) इस समय आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स का हिस्सा है और वो भारतीय क्रिकेट के एक उभरते हुए खिलाड़ी बन रहे हैं। प्रतिदिन वो अपने खेल को नया रूप देकर सबका ध्यान अपनी और खींच रहे हैं। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज का जन्म 31 जनवरी 1997 को सपनों के शहर मुंबई में हुआ था। 24 साल के इस क्रिकेटर के घर में शुरुआत से ही पढाई को अधिक महत्व दिया गया। 

परिवार का मिला सर्पोट

उन्होंने अपनी शुरआती पढाई सेंट जोसेफ हाई स्कूल से पूरी की। परिवार में पढाई को ज्यादा महत्व मिलने के बाद भी ऋतुराज (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) को क्रिकेटर बनने में काफी मदद मिली। ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) के पिता का नाम दशरथ गायकवाड़ है जबकि उनकी माता का नाम सविता गायकवाड़ है।  ऋतुराज के पिता रक्षा अनुसंधान विकास अधिकारी के पद पर काम कर रहे हैं जबकि उनकी माँ एक टीचर हैं और नगर पालिका स्कूल में पढ़ा रही हैं। शुरुआत से ही उनकी दिलचस्पी क्रिकेट में रही और जब उन्होंने अपनी इस इच्छा को सबके सामने रखा तो परिवार ने उन्हें आगे बढ़ने में काफी मदद की। 

एक मैच से प्रेरित होकर क्रिकेटर बनने का लिया संकल्प

ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) महज पांच साल के थे जब उन्होंने लेदर बॉल से क्रिकेट खेलना शुरू किया था। साल 2003 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बीच पुणे के नेहरू स्टेडियम में हुए एक मैच से प्रेरित होकर उन्होंने क्रिकेटर बनने का संकल्प लिया और इसके बाद वो इस क्षेत्र में आगे बढ़ते ही चले गए। 

ऐसे हुई करियर की शुरुआत

ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) ने 6 अक्टूबर 2016 को महाराष्ट्र के लिए रणजी ट्रॉफी खेलते हुए फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया था। इसके बाद उन्होंने साल 2017 में इंटर स्टेट ट्वेन्टी-20 टूर्नामेंट में भाग लिया और महाराष्ट्र की तरफ से खेला। इस टूर्नामेंट के बाद 24 फरवरी 2017 को उनके टेस्ट क्रिकेट करियर की शुरुआत हुई जहाँ उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में महाराष्ट्र के लिए अच्छा खेल दिखाया। बता दें कि ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) का नाम ऐसे खिलाड़ियों की लिस्ट में शुमार है जिन्होंने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2018-19 के दौरान घरेलू टीम में सर्वाधिक रन भी बनाए हैं। 

ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) ने अपने खेल से लोगों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करना उस समय शुरू कर दिया था जब वो अंडर-19 में खेल रहे थे। साल 2014-15 के दौरान हुई कूचबिहार ट्रॉफी में उन्होंने बढ़िया प्रदर्शन किया था, इस दौरान ऋतुराज ने 6 मैचों में कुल 826 रन बनाए थे। 

चेन्नई सुपर किंग्स ने बेस प्राइस पर खरीदा

ऋतुराज (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) के इसी शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप की टीम में चुन लिया गया। वहीं, घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने का उन्हें ईनाम भी मिला। साल 2019 में ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) को चेन्नई सुपर किंग्स ने उनके बेस प्राइस 20 लाख रुपए में खरीदा था लेकिन उस समय उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला।  इसके बाद साल 2020 में कोरोना को मात देने के बाद उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलने का मौका मिला और उन्होंने 58 गेंदों में 88 रन बनाए। साल 2020 में शानदार प्रदर्शन करने के बाद उनका शानदार प्रदर्शन साल 2021 के सीजन में भी जारी है। 

आईपीएल का पहला शतक

उन्होंने अभी हाल ही में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पारी की आखिरी गेंद पर छक्का उड़ाते हुए आईपीएल करियर का पहला शतक जड़ा। इसके लिए उन्होंने 60 गेंदें खेली, जबकि 9 चौके और 5 ऊंचे-ऊंचे छक्के जड़े। बता दें कि ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) भारतीय टीम के लिए टी20 फॉर्मेट में डेब्यू कर चुके हैं। श्रीलंका के खिलाफ उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था और अब तक उन्होंने दो अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच खेले हैं।  

ऋतुराज की गर्लफ्रेंड

वहीं, ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) के ज़िन्दगी की बात करें तो उनका नाम मराठी अभिनेत्री सयाली संजीव के साथ जोड़ा जाता है और इसकी चर्चा सोशल मीडिया पर काफी हो रही है। 

भारत को ऋतुराज से काफी उम्मीदें

ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) ने अब तक काफी शानदार प्रदर्शन किया है और यही कारण है कि काफी कम समय में ही उन्होंने लोगों के दिलों में अपनी जगह बना ली है। ऋतुराज (Ruturaj Gaikwad Biography in Hindi) आज हर घर में अपने क्रिकेट को लेकर पहचाने जा रहे हैं। भारतीय क्रिकेट के साथ-साथ देश को भी उनसे काफी उम्मीदें हैं।

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

अपराध

दुनिया

खेल

मनोरंजन