युवक की पीट-पीटकर हत्या के मामले में पुलिस ने 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार


Kuldeep kumar

राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के सूरजगढ़ क्षेत्र में दलित युवक जगदीश मेघवाल से बेरहमी से मारपीट कर हत्या करने के आरोप में पुलिस ने 4 नामजद आरोपियों मुकेश, सिकंदर, दिलीप और हंसराज को गिरफ्तार कर एक नाबालिग को निरुद्ध किया है। पुलिस ने अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम गठित कर दी हैं और जगह-जगह दबिशें दी जा रही हैं। मृतक जगदीश के परिवार को अनुसूचित जाति और जनजाति अत्याचार नियम के तहत 4 लाख 12 हजार 500 रुपये की आर्थिक सहायता कलेक्टर द्वारा स्वीकृत की जा चुकी है। 

आखिर ये पूरी खबर क्या है वो आपको बता देते हैं

दरअसल मृतक जगदीश पुत्र बनवारी लाल मेघवाल व आरोपी मुकेश वगैरा गांव प्रेमपुरा में एक-दूसरे के पड़ोसी हैं। मुकेश की पत्नी सुमन का मृतक जगदीश के साथ पिछले 4 साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। दोनों एक दूसरे के पड़ोसी हैं। इस प्रेम-प्रसंग को लेकर गाँव में कई बार पंचायत भी बैठी। मुकेश और सुमन के बीच मनमुटाव होने के बाद सुमन अपने मायके चली गई और मुकेश के खिलाफ थाना सदर सूरतगढ़ में मुक़दमा दर्ज करवा दिया। 

उन्होंने आगे कहा कि दोनों परिवारों के बीच पंचायत में आपसी राजीनामा होने से दोनों अलग-अलग हो गए थे। इधर, मृतक जगदीश की पत्नी मंजू ने भी मनमुटाव के चलते जगदीश के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा दिया था। 

एडीजी ने बताया कि अलग होने के बाद सुमन सूरतगढ़ में ही अपने बच्चों के साथ किराये के मकान में रह रही थी। वहां जगदीश सुमन से मिलने जाता था। इसकी खबर जब मुकेश को लगी तो वह परिवारवालों के साथ 7 अक्टूबर को सूरतगढ़ में सुमन के किराये के माकन में पहुंचा। उस वक़्त जगदीश वहां मौजूद था। सभी आरोपी जगदीश को वहां से अगवा करके सूरतगढ़ स्थित फार्म हाउस लेकर गए। जिसके बाद आरोपियों ने वहां पर जगदीश की बुरी तरह से पिटाई की। पिटाई करने के बाद आरोपी जगदीश को बाइक पर बैठाकर प्रेमपुरा में उसके घर के आगे पटककर चले गए। जब तक जगदीश के परिजनों ने जगदीश को  संभाला तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। 

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

अपराध

दुनिया

खेल

मनोरंजन