Kanpur Encounter : विकास दुबे के ख़ास गुड्डन त्रिवेदी ने खोले घटना वाले दिन के अहम राज


Purti Agnihotri

कुख्यात अपराधी विकास दुबे के बाद अब प्रशासन उसके करीबी व रिश्तेदारों से पूछताछ। में लगा है। विकास के ख़ास गुर्गों में से एक अरविंद उर्फ गुड्डन त्रिवेदी से पूछताछ के बाद पुलिस को कई अहम जानकारियां प्राप्त हुई। गुड्डन त्रिवेदी ने पुलिस को बताया कि उसने ही विकास के पास कुछ भेजे थे जिनके पास असलाह थे। उसने ही विकास दुबे के लोगों के लिए राइफलों का इंतजाम भी कराया था, लेकिन उसने यह भी बताया कि वह खुद घटना वाली रात वहां पर मौजूद नहीं था। साथ ही उसने यह भी बताया कि घटना के बाद उसने विकास की वहां से भागने में मदद की। उसी ने विकास को शिवली और औरैया में रुकने और खाने का इंतजाम भी करवाया था। साथ ही विकास के उज्जैन जाने की व्यवस्था भी गुड्डन ने ही की थी।" पुलिस ने गुड्डन त्रिवेदी के बयानों के आधार पर उसे मुल्जिम साबित किया है।

गुड्डन से पूछताछ के बाद पुलिस ने बुधवार को उसे कोर्ट में पेश किया, जहां से गुड्डन और उसके ड्राइवर सोनू को जेल भेज दिया। बता दें कि 10 जुलाई को हुए कानपुर एनकाउंटर के बाद से ही गुड्डन फरार हो गया था। जिसके बाद उसे मुंबई एटीएस में तैनात एनकाउंटर स्पेशलिस्ट दया नायक ने ठाणे थानाक्षेत्र के एक इलाके से धार दबोचा।   उत्तर प्रदेश से इंस्पेक्टर नजीराबाद ज्ञान सिंह और एक सिपाही की टीम को मुंबई भेजा गया जहां उन्होंने कोर्ट से ट्रांजिट रिमांड ली और मंगलवार को उसे शहर ले आई। जिसके बाद चौबेपुर थाने में गुड्डन त्रिवेदी से पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए।

गुड्डन‌ की काल डीटेल से पुलिस सारे सबूत इकठ्ठा करने में जुटी है। गुड्डन के द्वारा बयानों से उसकी घटना वाले दिन की लोकेशन भी मिल रही है। अधिकारियों का कहना है कि मिले हुए बयानों से कोर्ट में गुड्डन को आरोपित साबित करना आसान होगा। 

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

भारत

दुनिया

खेल

मनोरंजन