ब्लूबेरी खाने से मिलती है कई बीमारियों से लड़ने में मदद


Nazneen yakub

प्रकृति में कई ऐसे फल पाए जाते हैं, जिनकी अपने आप में कोई न कोई खूबी होती है। इन फलों के सेवन से हमें कई बीमारियों से बचने में और उन बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है। आज हम अपने इस लेख में बात करेंगे ब्लूबेरी की जिसके सेवन से हमारे शरीर को क्या-क्या  लाभ मिलता है।

आईए जानते हैं ब्लूबेरी के बारे में

ब्लूबेरी एक ऐसा फल है जिसको हिन्दी में नीलबदरी कहा जाता है। यह फल दो प्रकार के होते हैं, रेबिटआई ब्लूबेरी और दूसरा हाईबश ब्लूबेरी दोनों ही बेरी काफी गुणकारी मानी जाती है।

जानें ब्लूबेरी के सेवन से शरीर को होने वाले फायदे

ब्लूबेरी का सेवन करने से हमारे शरीर की कई समस्याएं दूर होती हैं। ये हमारी शरीर की हड्डीयों को मजबूत बनाता है इसके अलावा ब्लूबेरी वजन कम करने में  मदद करता है, दिल से जुड़ी बीमारी ठीक करने में भी मदद करता है, आंखो की समस्या ठीक करता है, मानसिक तनाव को दूर करता है, पाचन क्रिया ठीक करता है, कोलेस्ट्रोल नियंत्रण रखता है,  याददाश तेज करता है, यू.टी.आई ठीक करने में मदद करता है, प्रतिरोध क्षमता बढ़ाता है और साथ ही त्वचा और बालों के लिए भी यह काफी कारगर माना गया है।

ब्लूबेरी में पाए जाने वाले पोषक तत्व

प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट,फाइबर, फैटिक ऐसिड, मैग्रीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, विटामिन C, विटामिन बी 6, विटामिन E, विटामिन K  जैसे कई और पोषक तत्व मौजूद होते है।

ब्लूबेरी का उपयोग –

 ब्लूबेरी को आप ओट्स या फिर ब्रेड के साथ मिलाकर ब्रेकफास्ट में ले सकते हैं।

आप ब्लूबेरी को जैम के रूप में रोटी या फिर ब्रेड पर लगाकर खा सकते हैं।

ब्लूबेरी को केक के ऊपर लगाकर केक का स्वाद कई गुणा बढ़ाया जा सकता है।

आप इसका उपयोग स्मूदी के रूप में भी कर सकते हैं।

आप इसे धोकर सीधा भी खा सकते हैं।

गर्मी के मौसम में ब्लूबेरी की आइसक्रीम हर किसी के लिए फेवरेट डिश हो सकती है।

आप इसे अन्य फलों के साथ मिलाकर जायकेदार फ्रूट सलाद बना सकते हैं।

ब्लूबेरी से होने वाले नुकसान

इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है । सीमित मात्रा में फाइबर का उपयोग आपकी सेहत के लिए अच्छा होता है, लेकिन अधिक मात्रा में किया गया फाइबर का सेवन गैस व आंत जैसी पेट की कई समस्याओं का कारण बन सकता है ।

जिनका वजन सामान्य से कम है, उन्हें भी इसका सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। इसमें पाया जाने वाला एन्थोसायनिन (anthocyanins) नामक यौगिक आपके वजन को और अधिक कम कर सकता है 

जिन्हें लो ब्लड शुगर की परेशानी है, वो इसका उपयोग डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

अपराध

दुनिया

खेल

मनोरंजन