कॉमनवेल्थ गेम्स का हुआ समापन, शरत कमल और निकहत रही भारत की ध्वजवाहक


Jasmine Siddiqui

बर्मिंघम में खेले जा रहे कॉमनवेल्थ गेम्स का रंगारंग कार्यक्रम के साथ समापन हो गया है। समापन समारोह में कलाकरों ने अपने बेहतर प्रदर्शन से लोगों का दिल जीत लिया। वहीं समापन समारोह में भारत की अंचता शरत कमल और निकहत जरीन भारत की ध्वजवाहक रही। कॉमनवेल्थ गेम्स का अगला गेम 2026 में ऑस्ट्रेलिया में होगा।

पिछले 11 दिनों से चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स का आखिरकार समापन हो ही गया है। अब चार साल बाद यानि की 2026 में 23वां कॉमनवेल्थ गेम्स का आयोजन ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में किया जाएगा। इस कॉमनवेल्थ गेम्स का आधिकारिक एंथम बजाकर कॉमनवेल्थ फ्लैग को विक्टोरिया के गर्वनर को सौंपा गया। वहीं कॉमनवेल्थ गेम्स के समापन समारोह में भारतीय दल की तरफ से टेबिल टेनिस खिलाड़ी अंचता शरत कमल और महिला बॉक्सर निकहत जरीन ध्वजवाहक रहीं।

बता दें कि, कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में कुल 72 देशों के कुल 5000 से ज़्यादा एथलीटों ने भाग लिया था। इस कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान कुल 877 मेडल बांटे गए। इसके साथ ही, 97 गेम्स रिकॉर्ड और 4 वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया गया। 11 दिन के चले इस गेम में दुनिया से आए अलग-अलग देशों के खिलाड़ियों ने ज़बरदस्त प्रदर्शन किया और अपने बेहतरीन प्रदर्शन से खूब सुर्खियां भी बटोरी।

भारत कॉमनवेल्थ गेम्स में चौथा स्थान हासिल कर 61 मेडल अपने नाम कर लिया है। जिनमें से 22 गोल्ड, 16 सिल्वर और 23 ब्रांन्ज मेडल शामिल है। वहीं ऑस्ट्रेलिया ने 67 गोल्ड, 57 सिल्वर और 54 ब्रांन्ज समेत कुल 178 मेडल के साथ पहले स्थान पर है, जबकि मेजबान इंग्लैंड 57 गोल्ड, 66 सिल्वर और 53 ब्रांन्ज मेडल के साथ दूसरे स्थान पर अपनी जगह बनाने में कामयाब रहा। इसके साथ ही, कनाडा 26 गोल्ड, 32 सिल्वर और 34 ब्रॉन्ज समेत 92 मेडल के साथ तीसरे स्थान पर रहा।

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

अपराध

दुनिया

खेल

मनोरंजन