CSK vs RR: फिसड्डी बल्लेबाजी बनी चेन्नई की हार की वजह, जानें हार की अन्य बड़ी वजह


Mayank Kumar

आईपीएल 2020 का 37 वां मुकाबला अबू धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया। इस मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को बुरी तरह हराया। रॉयल ने सुपर किंग्स को 7 विकेट से करारी मात दी। आईपीएल 2020 में चेन्नई की ये 7 वीं हार थी और अब सीएसके के लिए प्ले ऑफ के दरवाजे बंद हो चुके हैं क्योकि चेन्नई ने 10 मैचों में से सिर्फ 3 मैच जीते हैं। प्ले ऑफ में पहुँचने के लिए सीएसके को अब बाकी टीमों की हार पर निर्भर रहना पड़ेगा।  वैसे, चेन्नई को इतनी हार मिली कैसे और कहाँ हुई गलती, चलिए एक नजर डालते हैं इस पर। 

चेन्नई सुपर किंग्स के हार की वजह

अबू धाबी के मैदान पर चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। टारगेट सेट करने के लिए सीएसके की टीम मैदान पर आई तो सभी बल्लेबाज फ्लॉप हो गए। टॉप ऑर्डर से लेकर मिडिल ऑर्डर और मिडिल ऑर्डर से लेकर निचले क्रम के बल्लेबाज भी फेल हो गए। सिर्फ रविंद्र जडेजा ने 35 रनों की बड़ी पारी खेली। जिसके दम पर सीएसके ने एक छोटा सा 126 रनों लक्ष्य राजस्थान के सामने रख दिया जिसे रॉयल्स की टीम ने 15 गेंदे शेष रहते 7 विकेट से जीत लिया और इसी के साथ चेन्नई के लिए अब प्ले ऑफ के दरवाजे बन्द हो चुके हैं। 

वहीं, राजस्थान की तरफ से जोश बटलर ने तूफानी अर्द्धशतकीय पारी खेली और इसमें कप्तान स्टीव स्मिथ ने उनका बखूबी साथ निभाया। अब यहां गौर करने वाली बात ये है कि आखिर क्यों चेन्नई इस मुकाबले को हार गई। चेन्नई के हार के तीन वजह हैं।

1. इस मुकाबले में चेन्नई के सलामी बल्लेबाज से लेकर मिडिल ऑर्डर और निचले क्रम के बल्लेबाज भी फ्लॉप साबित हुए। खुद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के पास आज एक और मौका था कि वो आज एक बड़ी पारी खेले लेकिन धोनी सिर्फ 1 या दो रन से काम चलाते रहे। इस वजह से रविंद्र जडेजा भी सुस्त पड़ गए और खुलकर नहीं खेल पाए। इस मैच में भी धोनी ने वहीं गलती की जो धोनी इस सीजन में करते आ रहे थे। धोनी हमेशा मैच को आखिरी ओवर तक ले जाने की कोशिश में रहते हैं और इस बार भी उन्होंने ऐसा ही किया। नतीजा ये हुआ कि सीएसके बड़ा स्कोर नहीं बना पाई। इस मैच में धोनी और जडेजा को खुलकर चौके और छक्के मारने की जरूरत थी जो उन्होंने नहीं की और सीएसके इस मैच को हार गई।

2. चेन्नई सुपर किंग्स ने इस सीजन में अब तक उस खिलाड़ी को टीम में मौका नहीं दिया जिसे देना चाहिए था और उस खिलाड़ी का नाम है इमरान ताहिर जो पिछले साल के पर्पल कैप के विनर थे। साथ ही इमरान ताहिर इस साल सीपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन करके आए थे लेकिन धोनी ने पीयूष चावला को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जिसका खामियाजा पूरी टीम को भुगतना पड़ा।

3. कहते हैं, अनुभव की जरूरत हर जगह होती है लेकिन किसी चीज की अति बुरी होती है। चेन्नई की टीम ने जरूरत से ज्यादा ही अनुभवी खिलाड़ी हैं और अनुभवी खिलाड़ियों का फायदा जो अपना 100 प्रतिशत भी मैच में नहीं दे पा रहे हैं। महेंद्र सिंह धोनी को टीम में उम्र दराज खिलाड़ियों की जगह युवा खिलाड़ियों को मौका देने की जरूरत थी। क्रिकेट में उम्र को शरीर से नहीं बल्कि दिमाग से देखा जाता है। ये देखा जाता है कि आप दिमाग से कितने जवान है लेकिन सीएसके की टीम में ऊपर से लेकर नीचे तक सभी खिलाड़ी शरीर से तो उम्रदराज हो ही गए हैं, साथ ही साथ ये सभी दिमाग से भी उम्र दराज हो चुके हैं। इन सभी को क्रिस गेल से सीखने की जरूरत है जो 40 साल की उम्र में भी जबरदस्त चौके और छक्के की बरसात कर रहे हैं। उम्मीद है, धोनी आने वाले मुकाबले में युवा खिलाड़ियों का इस्तेमाल करेंगे और अगले साल के आईपीएल की रणनीति तैयार करने ने जुट जाएंगे।

तो ये थी वो तीन वजह जिसके कारण सीएसके को इस सीजन में मात तो मिली ही, साथ ही उसके प्ले ऑफ में पहुंचने के दरवाजे भी बंद हो गए। मुकाबले में स्टीव स्मिथ ने बहुत अच्छी कप्तानी की। गेदबाजों को काफी अच्छे से रोटेट किया, जिसका नतीजा ये हुआ कि राजस्थान की टीम ने चेन्नई को ज्यादा बड़ा स्कोर खड़ा करने नहीं दिया। हालांकि, राजस्थान की बल्लेबाजी लड़खड़ाई जरूर थी लेकिन जोश बटलर ने पारी को अच्छे से संभाला और अपनी टीम को जीत भी दिलाई। 

चेन्नई सुपर किंग्स की प्लेइंग इलेवन

सैम कुर्रन, फाफ डुप्लेसिस, शेन वॉटसन, अंबाती रायुडू, एमएस धौनी(कप्तान और विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, केदार जाधव, पीयूष चावला, दीपक चाहर, शार्दुल ठाकुर और जोश हेजलवुड।

राजस्थान रॉयल्स की प्लेइंग इलेवन

रोबिन उथप्पा, बेन स्टोक्स, संजू सैमसन, स्टीव स्मिथ(कप्तान), जोस बटलर (विकेटकीपर), राहुल तेवतिया, रियान पराग, श्रेयस गोपाल, जोफ्रा आर्चर, अकिंत राजपूत और कार्तिक त्यागी।

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

भारत

दुनिया

खेल

मनोरंजन