एक थप्पड़ और 13 टुकड़े


KULDEEP KUMAR

दिल्ली की गीता कॉलोनी से बड़ी ही हैवानियत भरा मामला सामने आया है। जहाँ पर एक युवक की बड़ी बर्बरता से हत्या की गई है और इस हत्या को अंजाम देने वाला मृतक का दोस्त है। 

पुलिस ने बताया कि मृतक सोनू(22) गीता कॉलोनी में रहता था और मजदूरी करता था। गुरुवार रात को सोनू के कुछ दोस्त घर पर आए और उसको अपने साथ गीता कॉलोनी के श्मशान घाट ले गए। फिर सभी दोस्तों ने मिलकर शराब पी। इसी दौरान सोनू का किसी बात को लेकर दोस्तों से झगड़ा हो गया। जिसके बाद आरोपियों ने सोनू को डंडे से पीट-पीट कर मार डाला। इसके बाद दोस्तों ने चापड़ से सोनू की लाश के 13 टुकड़े कर दिए। आरोपियों ने लाश के टुकड़ों को यमुना से लेकर एसडीएम ऑफिस तक बिखेर दिए। जब सोनू शुक्रवार सुबह तक घर नहीं पहुंचा तो घरवालों को फ़िक्र हुई। सोनू के घरवालों ने दोस्तों से सोनू के बारे में पूछा तो उन्होंने कुछ नहीं बताया तो घरवाले पुलिस के पास पहुंचे। पुलिस ने सोनू के दोस्तों से सोनू के बारे में पूछा तब जाकर ये सारा मामला खुला। 

पुलिस की पूछताछ में मुख्य आरोपी अमनप्रीत सिंह उर्फ़ चिन्ना ने पुलिस को बताया कि 3 साल पहले सोनू ने उसको थप्पड़ मार दिया था। अमनप्रीत को यह भी शक था कि एक मामले में सोनू ने पुलिस को मुखबिरी भी दी थी, जिसकी वजह से उसे जेल भी जाना पड़ा था। इस वजह से उसने दोस्तों के साथ मिलकर सोनू की हत्या कर दी। अमनप्रीत ने कहा कि वह पिछले 3 सालों से सोनू की हत्या करना चाहता था। इसके लिए उसने कई बार सोनू को यमुना किनारे शराब पिलाई। लेकिन मौका नहीं मिल पाया। 

पुलिस ने पाँचों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है, जिनमें एक नाबालिग भी है। आरोपियों द्वारा बताये गए स्थान से पुलिस ने शव के कुछ टुकड़ों को बरामद कर लिया है। पुलिस शव के अन्य हिस्सों की तलाश कर रही है। बरामद हुए हिस्सों को पुलिस ने शवगृह में सुरक्षित रखवा दिए हैं। 

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

भारत

दुनिया

खेल

मनोरंजन