ड्रोन से डिलीवरी अमेरिका से होगी शुरुआत


कंपनी इस पर लम्बे समय से काम कर रही थी। हो सकता है  Amazon अगले महीने से ड्रोन डिलीवरी सर्विस शुरू करे। सूत्रों के मुताबिक शुरुआत जुलाई में अमेरिका से हो सकती है। अपनी नई ड्रोन डिलीवरी सर्विस के जरिए कंपनी ट्रडिशनल तरीके से सामान डिलीवर करने में आने वाली समस्याओं को दूर करना चाहती है। कंपनी ने इसे Hybrid Design  दिया है, जो वर्टिकली टेक ऑफ और लैडिंग करेगा, इसका Aerodynamic लुक इसे फिक्स्ड विंग ड्रोन से ज्यादा एफिशिएंट बनाता है।

6 साल से इस गैजेट पर काम कर रही है कंपनी :

• कंपनी ने बताया कि नया ड्रोन कम्प्यूटर विजन और मशीन लर्निंग तकनीक का इस्तेमाल करेगा और ड्रोन लैंडिंग करते समय राह चलते लोगों के अलावा बिजली और कपड़े सुखाने वाले तारों से दूर रहने में भी सक्षम होगा।

• कंपनी का कहना है कि यह पूरी तरह से इलेक्ट्रिक बेस्ड है, जो 24 किलोमीटर तक की उड़ान भर सकता है। डिवाइस में  2.3 किलो वजन तक सामान लेकर उड़ान भरने में सक्षम है और सिर्फ 30 मिनट में डिलीवरी करेगा। इसकी सर्विस कहां से शुरू होगी अभी इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है। लेकिन American Aviation Department ने कहा कि अमेरिका की कंपनी को में ड्रोन डिलीवरी का लाइसेंस दे दिया गया है। इसलिए हो सकता है कि इसकी शुरुआत अमेरिका से ही होगी।

•  Amazon  लंबे समय से ड्रोन डिलीवरी को लेकर काम कर रही थी। रिपोर्टस की मानें तो दिसंबर 2013 में कंपनी ने इस तकनीक पर काम करना शुरू किया था और उस समय कंपनी के सीईओ जैफ बेजोस ने कहा था कि अगले 5 साल में ड्रोन डिलीवरी सेवा शुरू की जाएगी, लेकिन कानूनी अड़चनों के कारण इसमें देरी होती गई।

•  अभी भी कंपनी को कई Social  और Technological खामियों से निपटने की जरूरत है जो इस तरह के ड्रोन में देखने को मिलती है, जैसे तेज आवाज और बारिश में डिलीवरी करना। भारत में भी डिलीवरी कंपनी Zomato  ने स्पेशलाइज्ड ड्रोन सेंट्रिक स्टार्टअप कंपनी का अधिग्रहण किया है जो आने वाले सालों में अपनी खुद की सर्विस शुरू करेगी।

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

भारत

दुनिया

खेल

मनोरंजन